कर्मचारियों का पैसा उड़ा दिया अधिकारियों ने

प्रारंभिक शिक्षा विभाग को आवंटित मेडिकल और टीए का बजट किसी और मद में खर्च कर दिए जाने की शिकायत सीएमओ तक पहुंच गई है। इस मामले में सीएम के एसडी ने वित्त और शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर कार्रवाई के र्देश दिए हैं। राजस्थान शिक्षक संघ शेखावत के अतिरिक्त महामंत्री काश मिश्र ने शिकायत की है कि शिक्षकों के टीए और मेडिकल बिल पास करने के लिए इस साल कम बजट अलॉट किया गया। बावजूद इसके बजट मार्च में लैप्स ने से पहले फरवरी में ही अन्य मदों में खर्च कर दिया गया। इससे अकेञ्ले यपुर जिले में ही लाखों रुपए के मेडिकल और टीए के बिल अटक गए हैं। अब इन क्षकों को बिल पास होने केञ् लिए अगले वित्तीय वर्ष का इंतजार करना पड़ेगा।

Advertisements