मैरिज गार्डनों की खैर नहीं

चाहे धरना दें, प्रदर्शन करें या जैक लगवाएं, लगता नहीं है कि शहर सरकार मैरिज गार्डन संचालकों की मनमानी चलने देगी। नगर निगम ने राजस्व वसूली की रतार बढ़ाने के लिए बिना लाइसेंस चल रहे विवाह स्थलों पर शिकंञ्जा कसना शुरू कर दिया है। निगम ने सीज की कार्रवाई शुरू कर दी है और जल्द ही बडे मैरिज गार्डन को भी नोटिस थमाया जाएगा। हालांकि मैरिज गार्डन संचालकों ने नए बायलॉज में संशोधन होने तक कार्रवाई स्थगित करने मांग की है और ऐसा नहीं होने पर निगम के खिलाफ आन्दोलन की चेतावनी भी दी है। आपको याद दिला दें कि अभी पिछले मल मास में मैरिज गार्डन संचालकों ने निगम की सख़्ती के खिलाफ धरने प्रदर्शन किए थे। शहर में जिस तरह से हर गली मोहल्ले में मैरिज गार्डन खुलते जा रहे हैं लोगों की समस्या बढ़ती जा रही है। कहीं पार्किंञ्ग की पर्याप्त स्पेस नहीं है तो कहीं अग्निशमन के पर्याप्त बंदोबस्त नहीं। निगम ने भी अब इनकी लायसेंस फीस बढ़ा दी है। जिससे मैरिज गार्डन संचालकों में खलबली मची हुई है।

Advertisements