ज्‍वैलर्स अब भूख हडताल पर

दस दिनों से सराफा बाजार बंद हैं और सरकार की आंखों की पट्रटी खुलने का नाम नहीं ले रही। धरने प्रदर्शन बंद और मशाल जुलूस रैली के बाद अब व्‍यापारियों ने भूख हडताल का रास्‍ता अपनाया है। सोने के आयात शुल्क में बढ़ोतरी और स्वर्णाभूषणों पर एक फीसदी एक्साइज ड्यूटी के विरोध में सर्राफा व्यापारियों का राजस्थान सहित देश व्यापी आंदोलन सोमवार को दसवें दिन भी जारी रहा। सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी ने एलान किया है कि एक्साइज ड्यूटी हटने तक उनकी हड़ताल जारी रहेगी। कमेटी के सचिव कैलाश मित्तल ने बताया कि मंगलवार को छोटी चौपड़ एवं झालानियों का रास्ता इकाई के मनीष खूंटेटा और पवन अटोलिया के नेतृत्व में शहर के 50 से अधिक व्यापारी बड़ी चौपड़ पर एक दिन की भूख हड़ताल करेंगे। उल्लेखनीय है कि केंद्र द्वारा एक्साइज ड्यूटी थोपी जाने से सर्राफा व्यापारी और स्वर्णकार परेशान हैं, वहीं ग्राहकों को भी जेवरात नहीं मिलने से भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। इसके लिए कमेटी ने अपने सम्मानित ग्राहकों से क्षमा मांगने के साथ इस आंदोलन में सहयोग देने की गुजारिश की है।

Advertisements