आरटीओ हुआ सख्‍त

आरटीओ पर वैसे तो काम न करने और एजेंटो के घेरे में घिरे रहने के ही आरोप लगते हैं। हालांकि एजेंटों से तो जल्‍द ही स्‍पेशल सॉफटवेयर सिस्‍टम के जरिए निजाज मिल सकेगा। वहीं विभाग भी कार्रवाइयों के मामले में सख्‍त हो गया है। वाहन संचालकों की ओर से अग्रिम और बकाया टैक्स जमा नहीं कराने पर आरटीओ सख्त हो गया है। आरटीओ ऑफिस ने पिछले दो दिन में ऐसे 500 वाहनों का चालान किए है। जबकि इसमें से 300 वाहनों को सीज किया गया है। सीज किए गए वाहनों में बसें, ट्रक, और भारी वाहन शामिल है। आरटीओ टीम ने सोमवार को कार्रवाई कर 393 वाहनों का चालान और 274 वाहनों को सीज किया। वहीं, मंगलवार को 107 वाहनों का चालान किया और इसमें से 50 वाहन सीज किए।  आरटीओ डॉ. बीएल जाटावत ने बताया कि कार्रवाई के दौरान मौके पर 170 वाहनों से 20 लाख 45 हजार रुपए की वसूली की गई। कार्रवाई 18 टीमों की सहायता से अजमेर, दिल्ली, टोंक और आगरा रोड पर डीटीओ राजेंद्र गहलोत के नेतृत्व में की गई। वाहनों के चालान करने में यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताया जा रहा है। गौरतलब है कि परिवहन विभाग ने अग्रिम और बकाया टैक्स जमा कराने के लिए 25 मार्च अंतिम तारीख थी। इसके बाद भी कई वाहन संचालकों ने टैक्स जमा नहीं कराया। इसके बाद आरटीओ ऑफिस ने कार्रवाई की है।

Advertisements