अब सुनवाई होगी जयपुर में

Posted by

भंवरी का भंवर बीते साल राजस्थान की राजनीति में भूचाल ले आया। एक कैबिनेट मंत्री को बर्खास्त तक कर दिया गया। विधायक भी भंवरी के भंवर से नहीं बच सके। जोधपुर में सुनवाई के दौरान समुदाय विशेष् के लोगों के सीबीआई को धमकी देने से भी मामला काफी गरमाया था। अब कोर्ट के आदेश पर जोधपुर जेल से विधायक मलखान और महिपाल मदेरणा को अजमेर और जयपुर में शिफट कर दिया गया। पुलिस बुधवार सुबह दोनों को लेकर जोधपुर से रवाना हुई थी। विधायक मलखान को अजमेर सेंट्रल जेल में शिफ्ट किया गया। वहीं महिपाल मदेरणा को लेकर पुलिस दोपहर बाद जयपुर पहुंची। इस दौरान उनकी पत्नी लीला मदेरणा और बेटी भी मौजूद थी। सेंट्रल जेल के बाहर महिपाल के समर्थक भी मौजूद थे। महिपाल बस से उतर कर सीधे जेल के अंदर चले गए, इस दौरान वे मीडिया से बचते रहे। पुलिस ने महिपाल के साथ आए सामान की जांच कर उसे साथ ले जाने दिया। उधर भंवरी देवी हत्याकांड पर शुरू से ही मीडिया की खिलाफत करने वाली लीला मदेरणा और उनकी बेटी भी मीडिया से बचती रही। गौरतलब है कि सीबीआई ने जांच प्रभावित ना हो इसके लिए दोनों को जोधपुर से बाहर शिफ्ट करने को लेकर कोर्ट में अपील की थी।

Advertisements