ट्राइबल यूनिवर्सिटी के लिए कवायद

यदि सबकुछ ठीक रहा तो प्रदेश के आदिवासियों को ध्यान में रख कर शुरू की जाने वाली यूनिवर्सिटी अगले साल से शुरू हो जाएगी। राज्‍य सरकार की कोशिश यही है कि इस काम में देरी ना हो राजीव गांधी नेशनल ट्राइबल यूनिवर्सिटी अगले सत्र से शुरू हो सके इसके लिए कॉलेज शिक्षा निदेशालय ने केन्द्र सरकार से एप्रूवल मांगी है। खैरवाड़ा में इस यूनिवर्सिटी के लिए करीब सात सौ बीघा जमीन भी तलाश ली गई। इस जमीन के प्रस्ताव तैयार कर लिए गए हैं। इन प्रस्तावों को भी केन्द्र सरकार को भेजा जाएगा। करीब चार सौ करोड़ के बजट से बनने वाली यह यूनिवर्सिटी देश की दूसरी यूनिवर्सिटी होगी।  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने हाल ही के अपने बजट में प्रदेश में ट्राइबल यूनिवर्सिटी की घोष्णा की थी।

Advertisements