हंगामेदार रही विधानसभा की शुरुआत

विधानसभा के बजट सत्र का तीसरा चरण सोमवार को हंगामे के साथ शुरू हुआ। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष के मुख्य सेचतक राजेन्द्र राठौड़ की गिरफ्तारी को लेकर सवाल उठाए गए। इस दौरान निर्दलीय भाजपा विधायक रणवीर पहलवान ने इस मामले में सीबीआई पर आरोप लगाए। राठौड़ की गिरफ्तारी के विरोध में भाजपा विधायकों ने अपने मोबाइल फोन विधानसभा अध्यक्ष दीपेन्द्र सिंह शेखावत की टेबल पर रख दिए, जिससे मामला और हंगामेदार हो गया। हंगामा बढ़ता देख सदन की कार्यवाही  एक घंटे के लिए स्थगित कर दी गई। इसके जब कार्यवाही दोबारा शुरू हुई तो हंगामा हुआ। विधायक अदुल सगीर ने गोपालगढ़ और फूल मोहम्मद कांड के मामले में मुख्यमंत्री और गृहमंत्री की मोबाइल कॉल डिटेल निकलवाकर सदन में पेश करने की मांग की। इस बीच हंगामा और बढ़ गया। शोर शराबे के बीच शिक्षा, कला और संस्कृति के लिए अनुदान मांगे पारित की गई। इसके बाद सदन की कार्यवाही मंगलवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।