कुंजीलाल मीणा ने अधिकारियों के उडाए होश

Posted by

आईएएस अधिकारी कुंजीलाल मीणा अपनी कार्यशैली के लिए जाने जाने  वाले अफसर हैं।  हाल ही में वे बिजली कंपनियों के सीएमडी बनाए गए हैं। विभाग संभालते ही उन्‍होंने अधिकारियों को पसीने छुडाना शुरु भी कर दिया है। बिजली वितरण कंपनी के सीएमडी कुंजीलाल मीणा ने सोमवार देर रात सर्किल दफ्तरों के अधीक्षण अभियंताओं की 10 घंटे से भी ज्यादा समय की मैराथन मीटिंग ली। मीटिंग के दौरान अफसरों के मोबाइल स्विच ऑफ रहे और रात 10 बजे बाद भी जब अफसर घर नहीं पहुंचे तो घर वालों की चिंता बढ़ गई। जब घरवालों ने दफ्तरों में फोन की घंटी बजाई तो वहां उठाने वाला कोई नहीं था। नए वित्तीय साल में सीएमडी ने सभी सर्किल कार्यालयों के कामकाज की समीक्षा करने के लिए सोमवार सुबह 11 बजे से बैठक लेना शुरू किया। लेकिन अधिकांश सर्किलों में रेवन्यू वसूली व बिजली की स्थिति खराब थी। ऐसे में सीएमडी ने अफसरों को जबरदस्त फटकार लगाई। इस दौरान मीटिंग लंबी खींचती गई और शाम 5 बजे समाप्त होने वाली मीटिंग रात 10 बजे तक चलती रही। इस दौरान कई अफसरों के मुद्दे मीटिंग एजेंडा में नहीं होने के बावजूद उन्हें भी वहीं बैठना पड़ा। इस पर कई अधिकारियों ने नाराजगी भी जताई। लेकिन सीएमडी के सामने नहीं बोल पाए। बताया जा रहा है कि यह मीटिंग बिजली कंपनी की चुनिंदा मैराथन मीटिंगों की सूची में शामिल हो गई है।

Advertisements