दिल्‍ली में वसुंधरा की लॉबिंग

गुलाबचंद कटारिया की यात्रा के विरोध में प्रतिपक्ष की नेता वसुंधरा राजे के इस्तीफे की पेशकश और इसके बाद चले घटनाक्रम के बाद अब दिल्ली में भाजपा की राजनीति गरमा गई है। भाजपा में दोनों खेमों के नेता अब केंद्रीय नेतृत्व के सामने इस मामले को उठा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार भाजपा महामंत्री किरण माहेश्वरी ने सोमवार को दिल्ली में अरुण जेटली और लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात कर यात्रा प्रकरण और इसके बाद के घटनाक्रम पर चर्चा की है। माहेश्वरी और वसुंधरा राजे खेमे से जुड़े नेता अब कटारिया की यात्रा के बाद के घटनाक्रम पर आलाकमान पर दबाव बनाकर संगठन में कुछ बदलाव की मांग कर सकते हैं। वसुंधरा खेमे के निशाने पर अब प्रदेशाध्यक्ष और प्रदेश प्रभारी है। वसुंधरा राजे के समर्थन में सोमवार को तीन और विधायकों ने इस्तीफे सौंप दिए हैं। राजेंद्र राठौड़ ने मैसेंजर के जरिए अपना इस्तीफा वसुंधरा राजे को भिजवाया। छोटू सिंह भाटी और हबीबुर्रहमान ने वसुंधरा राजे से उनके घर पर मिलकर उन्हें इस्तीफा सौंपा।

Advertisements