एसीबी की कार्रवाई 3 गिरफ्तार

निजी कॉलेजों में धांधलियों की शिकायत थमने का नाम नहीं ले रही। सरकार का कोई नियंत्रण इन पर नजर नहीं आ रहा। गुरुवार को एसीबी ने नर्सिंग कॉलेज पर कार्रवाई की। नर्सिंग की एक छात्रा से पहले तो पास कराने के बदले अस्मत मांगी गई और मना करने पर पैंसठ हजार रुपए की रिश्वत मांगी गई। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरों ने उपचार नर्सिंग कॉलेज के प्रिंसिपल हैल्थ यूनिवर्सिटी के बाबू और हॉस्टल वार्डन को कॉलेज में बीस हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया। ये कॉलेज किडनी कांड में आरोपी रहे लिबर्टी हॉस्पिटल के मालिक डॉ सुरेश गुप्ता का है जो अस्पताल की बिल्ंिडग में तीन नर्सिंग कॉलेज चला रहे थे। एसीबी की माने तो कॉलेज के कई स्टूडेंट्स को आरोपी अपना शिकार बना चुके है।