बर्दाश्‍त नहीं किया जाएगा अवैध खनन- गहलोत

Posted by
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अवैध खनन को समाज के लिए घातक बताते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये है कि इसे रोकने के लिए कडे़ कदम उठाए जाएं। उन्होंने कहा कि अवैध खनन किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने रविवार को तीन घण्टे तक अधिकारियों के साथ खनन मामले में चर्चा करने के बाद कहा कि निहित स्वार्थां के कारण माफिया पैदा होते हैं जिन्हे पहचानना होगा। गहलोत ने कहा कि वैध खनन हो जिससे  लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होते रहें लेकिन अवैध खनन को हर हाल में रोंकें। गहलोत ने कहा कि कई राज्यों में अवैध खनन  को लेकर जो स्थितियां बन रही है वैसे हालात राजस्थान में न बनें ये अधिकारियों को सुनिश्चित करना होगा। उन्होंने कहा कि हमारा यह प्रयास हो कि राजस्थान राज्य आदर्श राज्यों की श्रेणी में रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि संवेदनहीनता की जो घटनाएं हो रही है इसकी रोकथाम के लिए प्रभावी उपाय करने होगे जिसमे पुलिस को महत्वपूर्ण भूमिका अदा करनी होगी। उन्होंने कहा कि हमें इसे गंभीरता से लेना होगा। गहलोत ने कहा कि पुलिस फोर्स भेजने के साथ ही अवैध खनन क्षेत्रों मे पदस्थापित अधिकारियों को भी सचेत किया जाये जिससे कोई अप्रिय घटना ना हो मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को निर्देश दिये कि जो कार्मिक फील्ड में जान हथेली पर लेकर काम करते हैं उन्हें सुरक्षा मिले। मैन पावर उपलब्ध कराने के साथ जिस क्षेत्र में अवैध खनन हो वहां के जिला कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक जिम्मेदार होंगे।
Advertisements