चतुर्वेदी के फिर से अध्यक्ष बनने का रास्ता साफ

Posted by

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष के चुनाव की प्रक्रिया 15 दिसंबर तक पूरी कर ली जाएगी। हाल ही में मुम्बई में हुई पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक में सभी राज्यों की इकाइओं को इसके निर्देश जारी किए गए। राजस्थान में सितंबर से अक्टूबर के बीच स्थानीय जिला इकाइयों के चुनाव करवा लिए जाएंगे और उसके बाद यदि प्रदेशाध्यक्ष के नाम पर आम सहमति नहीं बनी तो उसके लिए चुनाव होगा। हाल ही में पार्टी के संविधान में संशोधन करके एक ही अध्यक्ष का कार्यकाल लगातार दो बार बढ़ाने के संशोधन पर मोहर लगाई गई। ऐसे में राजस्थान में अरूण चतुर्वेदी के कार्यकाल को बढ़ाने के संकेत मिल रहे हैं। हालांकि संगठन में चल रही आपसी खींचतान इसमें रोड़े भी अटका सकती है।

Advertisements