धरधरा के गिर गया मंदिर

Posted by

प्रताप नगर के दहलावास में मंगलवार दोपहर को पुर्ननिर्माण कार्य के चलते हनुमान मंदिर ढह गया। मूल मंदिर के चारों और तहखाना में साइड की दीवारें बनाने के लिए 12 मजदूर नींव खुदाई कर रहे थे। वहीं पर जेसीबी मशीन भी तहखाने से मिट्टी बाहर डाल रही थी। मशीन के कंपन से मंदिर भरभरा कर गिर गया। जिसमें वहां काम कर रहे चार मजदूर दब गए। सूचना मिलने पर प्रताप नगर थाना पुलिस व आपदा प्रबंधन की टीम मौके पर पहुंची। दबे हुए मजदूरों को जेसीबी से मिट्टी हटाकर बाहर निकाला। तीन मजदूरों के घायल होने पर एंबुलेंस से एसएमएस अस्पताल पहुंचाया।जहां डॉक्टरों ने एक मजदूर को मृत घोषित कर दिया। घटना के अनुसार प्रतापनगर सेक्टर-18 में दहलावास हनुमान मंदिर का जीर्णोद्धार कार्य गत छह माह से चल रहा है। मूल मंदिर (10 बाई 10) के चारों ओर तीन दिन पहले जेसीबी मशीन से खुदाई कर करीब 10 फीट गहरा तहखाना बनाया गया है। मंगलवार को तहखाने की दीवारें बनाने के लिए 12 मजदूर नींव की खुदाई कर रहे थे। वहीं पर जेसीबी मशीन भी खुदाई कर मिट्टी को बाहर निकालने का कार्य कर रही थी। मशीन के कंपन से मूल मंदिर भरभरा कर गिर गया। मंदिर के गिरने से मूर्ति भी खंडित हो गई। वहां काम कर रहे मध्यप्रदेश में श्योपुर खुडायता के रहने वाले राम लखन (30), राधेश्याम(25), प्रमोद सिंह (18) और लखन मीणा (22) दब कर घायल हो गए। मंदिर ढहने से मजदूरों और दर्शनार्थियों में हड़कंप मच गया। जेसीबी को ऑपरेट कर रहे राम बिलास (23) निवासी सवाई माधोपुर ने मशीन से मिट्टी को हटाकर वहां मौजूद अन्य लोगों की मदद से करीब आधा घंटे में मजदूरों को बाहर निकाला। इसी दौरान सूचना मिलने पर प्रताप नगर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई।

Advertisements