मेहदी की याद में गमजदा जयपुर

मेहदी हसन नहीं रहे। गायकी की दुनिया के सरताज रहे इस शख्स का लम्बी बीमारी के बाद पाकिस्तान में इंतकाल हो गया। लोगों को अपनी आवाज का दीवाना बना देने वाले इस शख्स के निधन पर गुलाबी नगर में भी गम का माहौल रहा। ग्रेमी अवार्ड विजेता पंडित विश्वमोहन भट्ट ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है। मेहदी राजस्थान के ही थे और बंटवारे के वक्त वे पाकिस्तान की धरोहर हो गए। मुल्क भले ही बंट गए हों, लेकिन राजस्थान मेहदी हसन की रुह में समाया था। यहां लोगों ने उनके निधन पर इसे संगीत जगत की बहुत बड़ी हानि करार दिया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी संवेदना व्यक्त की।

Advertisements