मिल सकती है राहत

पेट्रोल व डीजल की ऊंची कीमतों से उपभोक्ताओं को राहत मिल सकती है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट व रूपए में मजबूती के कारण तेल कंपनियां पेट्रोल की कीमतों में कमी कर सकती हैं। तेल मंत्रालय द्वारा प्रकाशित आंकड़ों के अनुसार 20 सितंबर तक कच्चा तेल पांच दिन पहले के भाव 116 डॉलर से गिरकर 104 डॉलर पर आ गया। सरकार द्वारा घोषित आर्थिक सुधारों के कारण रूपया भी मजबूत हो रहा है। रूपया 21 सितंबर को चार माह के उच्चतम स्तर डालर के मुकाबले 53.47 पर पहुंच गया। इसमें और मजबूती के आसार हैं। आमतौर पर कच्चे तेल में एक डालर की गिरावट से पेट्रोल 33 पैसा सस्ता होता है। इसी प्रकार मजबूत रूपए से पेट्रोल की कीमत में 77 पैसे की कमी आ सकती है।

Advertisements