न्यायिक अधिकारियों का सम्मेलन सम्पन्न

जयपुर में आयोजित 3 दिवसीय वेस्ट जोन रीजनल ज्यूडिशियल कॉन्फ्रेंस का रविवार को समापन हो गया। यहां राजस्थान हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा कि कानूनी प्रावधानों का दुरुपयोग होने लगा है, जिससे कमजोर और निर्धन लोग मामले दर्ज कराने से कतराते हैं। ऐसे में बाहुबली अपने रुतबे से मुकदमों में राजीनामा करा लेते हैं। गवाहों को अगर सुरक्षा मिले तो लोगों की न्याय में आस्था खत्म नहीं होंगी। मिश्रा ने पुराने और पेंडिग केसों को प्राथमिकता से निस्तारण की बात जजेज से की। कॉन्फ्रेंस मे राजस्थान, एमपी, महाराष्ट्र और गुजरात के करीब 80 से ज्यादा न्यायिक अधिकारियों ने भाग लिया।

Advertisements