किसानों को मिलेगी छह घंटे बिजली

ऊर्जा मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने किसानों को छह घंटे बिजली सप्लाई करने के लिए जयपुर डिस्कॉम के सभी इंजीनियरों को निर्देश दिए है। इससे गांवों में भी घरेलू बिजली की खपत बढ़ गई है। इधर, बिजली बिलों में सुधार करने के बाद भी लगातार गड़बडिय़ां आ रही हैं। सुधार के एक माह बाद फिर भारी-भरकम बिल आ रहा है, जो कि उपभोक्ताओं के लिए सिरदर्द बना हुआ है। रही सही कसर स्पॉट बिलिंग से पूरी हो गई है। इस वजह से उपभोक्ता हर माह संशोधन करवाने को मजबूर हैं। नया टैरिफ लागू होने के करीब तीन माह बाद भी गड़बडिय़ों को सुधारने का कोई स्थायी समाधान नहीं निकलने से उपभोक्ता परेशान हो रहे हैं। बिजली दफ्तरों के चक्कर लगाकर लोग थक चुके हैं। बिल में संशोधन के बाद अगले महीने के बिल में संशोधित रकम के साथ शेष रकम को बकाया राशि के रूप में जोड़कर भेजा रहा है। प्रतापनगर, मानसरोवर, पुराना घाट, भांकरोटा, खासाकोठी और अन्य बिजली दफ्तरों में इस माह भी लोग बिल सुधरवाने के लिए चक्कर लगा रहे हैं।