सिटी पैलेस में 23 श्रेणियों में दिए पुरस्कार

Posted by

जयपुर, 26 अक्टूबर। स्वर्गीय महाराजा सवाई भवानी सिंह, एमवीसी ऑफ जयपुर के जन्मदिन समारोह के अन्तर्गत कल सायं सिटी पैलेस के प्रीतम निवास प्रांगण में प्रतिष्ठित वार्षिक पुरस्कार समारोह का आयोजन किया गया। प्रत्येक वर्ष महाराजा सवाई मानसिंह द्वितीय संग्रहालय ट्रस्ट द्वारा दिए जाने वाले ये पुरस्कार इस मर्तबा 23 विभिन्न श्रेणियों में मानवता सेवा, विरासत के संरक्षण, चिकित्सा विज्ञान, परम्परागत शिल्प के क्षेत्र आदि में दिए गए। इन पुरस्कारों के तहत 21000 रूपए नकद, शॉल और सिटी पैलेस के सर्वतोभद्र चौक में रखी रजत कलश की लघु प्रतिकृति प्रदान की गई।
उल्लेखनीय है कि गत वर्ष ब्रिगेडियर स्वर्गीय एच. एच. महाराजा सवाई भवानी सिंह के निधन के कारण इस पुरस्कार समारोह का आयोजन नहीं किया गया था।
कार्यक्रम का आरम्भ शाही परिवार के सदस्यों और धर्म गुरूओं के मंच पर आने के साथ हुआ। कार्यक्रम की शुरूआत में शाही परिवार के सदस्यों द्वारा श्री गोविन्ददेव जी और स्वर्गीय एच. एच. महाराजा सवाई भवानी सिंह की तस्वीर पर माल्यार्पण कर तत्पश्चात् दीप प्रज्ज्वलित कर की गई। हिज हाईनेस और शाही परिवार के अन्य सदस्यों ने धर्मगुरूओं को भेंट दी और उनका आशीर्वाद प्राप्त कर पुरस्कार समारोह आरम्भ किया गया।
इन पुरस्कारों में से अधिकांश पुरस्कार हिज हाईनेस महाराजा  सवाई पद्मनाभ सिंह द्वारा एवं कुछ पुरस्कार राजमाता पद्मिनी देवी द्वारा वितरित किए गए।
विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्यों के दिये गये पुरस्कार हैं – राजा दूल्हा राय अवार्ड (श्री कंवलजीत सिंह) मानवता के क्षेत्र में महत्वपूर्ण सेवाओं के लिए; राजा काकिल देव अवार्ड (श्री कुलभूषण और श्रीमती मीनाक्षी जैन) वास्तुकला और विरासत संरक्षण के लिए; राजा पज्जवान देव अवार्ड (डॉ. हेमन्त भारतीय) चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में; राजा भगवंत दास अवार्ड (श्री सत्यनारायण नाहटा) जयपुर के पारंपरिक शिल्प; राजा मानसिंह प्रथम अवार्ड (श्री कपिल कांत और श्री दीपचंद खींची) बहादुरी के लिए; मिर्जा राजा जयसिंह प्रथम अवार्ड (जनरल वी. के. सिंह) सशस्त्र बलों में विशिष्ट सेवा के लिए; मिर्जा राजा राम सिंह अवार्ड (श्री दौलत सिंह शक्तावत) पारिस्थितिकी संतुलन और पर्यावरण सुधार के लिए; महाराजा विशन सिंह अवार्ड (श्रीमती धमेन्द्र कंवर) ट्रेवल, पर्यटन और संग्रहालय विकास में उल्लेखनीय योगदान के लिए; महाराजा सवाई जय सिंह द्वितीय अवार्ड (पंडित सतीश चन्द्रश्शास्त्री) खगोल विज्ञान और संबंधित विज्ञान के लिए; महाराजा सवाई ईश्वरी सिंह अवार्ड (पंडित विश्वमोहन भट्ट) परफोर्मिंग आर्ट में; महाराजा सवाई माधो सिंह प्रथम अवार्ड (सुश्री नीना सिंह, आईपीएस) सिविल डिफेंस और प्रशासनिक सेवा के क्षेत्र में; महाराजा सवाई प्रताप सिंह अवार्ड (डॉ. बी. एम. जाबालिआ) इतिहास/साहित्य/शिक्षा के क्षेत्र में; महाराजा सवाई जगत सिंह अवार्ड (श्री हिम्मत शाह) मूर्तिकला के क्षेत्र में; महाराजा सवाई राम सिंह द्वितीय अवार्ड (श्री प्रकाश भंडारी) पत्रकारिता के क्षेत्र में; महाराजा सवाई माधो सिंह द्वितीय अवार्ड (श्री राजीव खंडेलवाल) टीवी और फिल्म क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान के लिए दिये गए।
इसके अतिरिक्त अन्य पुरस्कार निम्न प्रकार से हैं – महाराजा सवाई मानसिहं द्वितीय अवार्ड (सुश्री शगुन चौधरी) खेलों में उत्कृष्टता के लिए; महारानी मरूधर कंवर अवार्ड (श्री देवी लाल) एम.एस.एम.एस. संग्रहालय ट्रस्ट/जेपीसी ट्रस्ट/शिला माता ट्रस्ट के लिए; महारानी किशोर कंवर अवार्ड (हरी हर शरण भट्ट) परफार्मिंग आर्ट के क्षेत्र में उत्कृष्टता के लिए; राजमाता गायत्री देवी अवार्ड (मेजर नेहा भटनागर और कैप्टन दीपिका राठौड़) महिला उत्कृष्टता के लिए; महाराजा सवाई भवानी सिंह अवार्ड (जेम पैलेस) व्यापार और उद्योग के क्षेत्र में उत्कृष्टता के लिए; राजमाता पद्मिनी देवी अवार्ड (श्री बिजेन्द्र सिंह) राजपरिवार के प्रति वफादारी और अनुशासन के लिए; राजकुमारी दीया कुमारी अवार्ड (सुश्री अपेक्षा मित्तल) शिक्षा के क्षेत्र में युवा प्रतिभा; महाराजा सवाई पद्मनाभ सिंह अवार्ड (सुश्री अपूर्वी चंदेला) खेलों में युवा प्रतिभा क्षेत्र दिये गये उल्लेखनीय योगदान के लिए दिये गए।
इसके बाद संग्रहालय ट्रस्ट के निदेशक, श्री यूनुस खिमानी ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

Advertisements