पैलेस ऑन व्हील्स – शाही सफर

Posted by
पैलेस ऑन व्हील्स, जैसा कि नाम से प्रतीत होता है, वैसी ही यह ट्रेन है-पहियों पर महल। चाहे यह गाड़ी पटरी पर खड़ी हो या राजस्थान के शाही डेस्टीनेशंस की दूरी नाप रही हो, इसका हर अंदाज शाही है। इसकी सबसे विशेष बात ही इसकी रॉयलिटीह है, जिसमें सफर करने का सपना देशी विदेशी पर्यटक देखते हैं।सफर के दौरान राजपूताना के शाही अंदाज को अपने आप में समेटे यह रेल पर्यटकों को हर वह सुविधा पूरे ठाठ से उपलब्ध कराती है जिसे यहां के राजा-महाराजाओं ने अपने शासनकाल में जिया है। ट्रेन का कंट्रेम्प्रेरी मॉडल इस अनुभव को और भी जीवंत बना देता है।

इस सफर में शाही ठाठ का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि हर एक डिब्बे को एक आलीशान महल-कक्ष की तरह डेकोरेट किया गया है। जो पूरी तरह वातानुकूलित होता है। इस रूम में आपको बार-काउंटर, बाथरूम अटैच्ड बैडरूम, ठंडे और गर्म पानी के शॉवर, आरामदायक सोफे, स्टडी कॉर्नर, कपड़े और अन्य सामान रखने के लिए वार्डरोब और कांच की खिडकियों के पास आपका अपना बिस्तर जिसपर लेटकर आप राजस्थान के सुनहरे सफर को बेहद सुकून से अनुभव कर सकते हैं। कमरों का इंटीरियर देखते ही बनता है।

यदि आप ट्रेन में सफर कर रहे अन्य यात्रियों या अपने मित्रों से रूम के बाहर बैठकर आपसी चर्चा करना चाहते हैं तो आपके बैडरूम के बाहर एक शानदार लाउंज मौजूद है। यहां आप कोच के अन्य यात्रियों के साथ बैठकर गपशप कर सकते हैं। आपके सैलून के साथ आपको पेंट्री भी उपलब्ध होती है, यहां से आप अपने पसंद की शराब, गर्म कॉफी या जलपान लेकर अपनी खिड़की के पास बैठकर बाहर के नजारे का आनंद ले सकते हैं। यह वाकई एक सुखद एहसास होता है। आपके सैलून से बहती मंद राजस्थानी लोकधुनें आपके आनंद को तीगुना-चौगुना करती रहेंगी।

पैलेस ऑन व्हील्स में दो शानदार रेस्टोरेंट आपको मनमोहक डिश का स्वाद चखने का सुअवसर भी देते हैं। लाउंस, पेंट्रीं और बार के साथ आपका मनपसंद भोजन पूरे राजस्थानी ठाठ और मेजबानी के उच्च स्तर के साथ परोसा जाता है। रेस्टोरेंट की सजावट, इंटीरियर, पर्दे और म्यूजिक बेहद सुकून देता है। यहां शेफ आपके ऑर्डर पर आपके लिए बेहद खास व्यंजन बनाने के लिए तत्पर रहते हैं। इसके अलावा आपको शुद्ध भारतीय और राजस्थानी थाली का आनंद भी मिलता है। कांटीनेंटल और चाईनीज फूड के दीवाने भी यहां के खास व्यंजनों का लुत्फ ले सकते हैं।

पैलेस ऑन व्हील्स नई दिल्ली के सफदरगंज रेल्वे स्टेशन से हर बुधवार रात एक सप्ताह के हसीन सफर के लिए निकलती है। अपने सफर के दौरान यह ट्रेन राजस्थान के रास्ते से आगरा के ताजमहल होती हुई दिल्ली वापस लाने से पहले एक स्वर्गानुभूति कराती है। यह ट्रेन रात में निकलती है ताकि हर सुबह जब आपकी आंख खुले तो आप अपने आप को नए खूबसूरत शहर में पाएं। सच, अगर आपने पैलेस ऑन व्हील्स का सफर नहीं किया है तो अभी इसे अपने सपने में शुमार जरूर कर लें।

पैलेस ऑन व्हील्स में मिलने वाली सुविधाएं-

पैलेस ऑन व्हील्स एक शाही गाड़ी है। यह देश की पहली ऐसी ट्रेन है जो पैसेंजर्स को लाईव टीवी की सुविधा मुहैया कराती है। इसके अलावा भी बहुत सी सुविधाएं हैं जो इस ट्रेन के सफर को यादगार बनाती हैं।

वातानुकूलित 14 सैलून-

यह ट्रेन पूरी तरह वातानुकूलित है। इसमें 14 सैलून हैं, दो डबलबैड युक्त शानदार रूम जो ठंडे और गर्म पानी के शॉवर के बाथरूम के साथ अटेज्ड हैं।

बार-

इस शाही गाड़ी में पैसेंजर्स के लिए बार की सुविधा का भी ध्यान रखा गया है जहां की ठेठ भारतीय मेजबानी आकर्षक है।

पैसेंजर किट-

इस ट्रेन में प्रत्येक यात्री को एक किट मुहैया कराया जाता है जिसमें स्टेशनरी, ब्रॉशर और कार्ड आदि शामिल होते हैं, इनके माध्यम से पैसेंजर सफर के दौरान शाही सेवाओं के लिए कॉल कर सकते हैं।

रेस्टोरेंट-

पैलेस ऑन व्हील्स में दो शानदार रेस्टोरेंट भी उपलब्ध हैं जो यात्रियों को उनका पसंदीदा भोजन गर्मागर्म परोसने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं। यहां स्थानीय, देशी और विदेशी व्यंजनों का जायका लिया जा सकता है। ठेठ भारतीय थाली के अलावा राजस्थानी थाली और चाईनीयज फूड आपकी यात्रा को और स्वादभरा कर देते हैं

खिदमतगार-

यात्रा के दौरान आपकी सेवा में हर पल खिदमतगार मौजूद रहते हैं। ये आपकी छोटी से छोटी जरूरत का बड़ा ध्यान रखते हैं।

इंडोर गेम्स-

आपकी यात्रा को और रोचक बनाने के लिए सफर के दौरान आपको इंडोर गेम्स भी उपलब्ध कराए जाते हैं, इनमें चेस, कैरम, प्लेइंग कार्ड्स, क्रॉसवर्ड पहेलियां, चीनी चेकर्स आदि शामिल हैं।

विकलांग व्यक्तियों के लिए सुविधाएं-

विकलांग यात्रियों के लिए इस ट्रेन में व्हील चेयर्स, क्रेच और विशेष परिचर सहायता के लिए मौजूद रहता है।

लाउंज-

प्रत्येक कंपार्टमेंट के बाहर एक लाउंज की व्यवस्था होती है जिसमें आप अपने रूम से निकलकर सहयात्रियों के साथ वक्त बिता सकते हैं।

अन्य सुविधाएं-

शाही ट्रेन में इसके अलावा और भी सुविधाएं हैं, जैसे आपको आपको अपना मेलबॉक्स दिया जाता है, शानदार दावतें दी जाती हैं, डॉक्टरी सहायता, सफरभर के दौरान पीने का शुद्ध पानी, मान्यताप्राप्त हस्तशिल्पियों से उनके उत्पाद डायरेक्ट खरीदने का मौका, समाचार-पत्र और पत्रिकाएं, टॉयलेटरीज, आपके लैपटॉप के लिए इंटरनेट के लिए आवश्यकतानुसार वोल्ट और ब्रॉडबैंड, स्मारिकाएं जिनके तहत आप सफर के बीच महत्वपूर्ण वेडिंग, सम्मेलन या बिजनेस मीट अटेंड कर सकते हैं। ट्रेन के इस शाही सफर में यात्रियों के लिए खास ऐतिहासिक शहरों में लाईट और म्यूजिक के इवेंट्स भी अरेंज किए जाते हैं, इसके अलावा खुशमिजाज स्टाफ, राजस्थान के रेतीले धोरों में ऊंट की सवारी और नृत्यों का आनंद लेते हुए लजीज व्यंजलों का स्वाद तथा शाही स्पा आपको तन मन से तरोताजा रखते हैं।

यही कारण है कि शाही गाड़ी यह सफर एक प्रकार से सात दिन के लिए आपको राजा-महाराजाओं जैसी जिंदगी देने के लिए मशहूर भी रहा है और कामयाब भी।

Advertisements