संगीत संध्या में चला पुराने गीतों का जादू

आईआईएफ-2018 का दूसरा दिन

संगीत संध्या में चला पुराने गीतों का जादू

जयपुर, 6 जनवरी।
आईआईएफ-2018 के दूसरे दिन शाम को संगीत की संध्या में राजेश शर्मा, राजश्री सेमन्त, संजय रायजादा और मधु भट्ट ने पुराने फ़िल्मी गीतों के जरिये समा बांध दिया। जाइये आप कहाँ जायेंगे, ये नजर लौट के फिर आएगी, मेरे सपनो की रानी कब आएगी तू, ओ मनचली, गाता रहे मेरा दिल, चलते-चलते मेरा ये गीत आदि बॉलीवुड के सदाबहार गीतों के साथ शाम सुरमई हो गई.

बॉलीवुड की पार्श्व गायिका राजश्री सेमन्त ने मीरा बाई के भजन और पिया बिना सब सुनो को अपनी पुरकशिश आवाज में सुनाया।

भीलवाड़ा के राहुल शाह ने सैक्सोफोन पर ये जो मोहब्बत है, गुलाबी आखें जो तेरी देखी, जिंदगी प्यार का गीत है, जैसे गीतों को सुनाकर वहां मौजूद सब श्रोताओं का दिल जीत लिया। राहुल ने टाइटेनिक के टाइटल सांग को सुप्रानो पर भी बजाया।
म्यूजिक लवर और लघु उद्योग भारती के झोटवाड़ा इकाई के अध्यक्ष राजेश शर्मा ने कार्यक्रम का सञ्चालन किया और फ़िल्मी नगमें भी सनाये।

डॉ. संजय मिश्रा विमल कटियार
98295 58069 94140 59334

रणजीत सिंह अजय शर्मा
98877 77560 98290 77315

आईआईएफ- 2018 मीडिया टीम

Advertisements