Category Archives: जयपुर शहर

जयपुर : काउंटर मैग्नेट क्षेत्र

जयपुर : काउंटर मैग्नेट क्षेत्र (Jaipur – Counter Magnet Area) जयपुर की सूरत और सीरत दिन-ब-दिन बदल रही है। साढ़े तीन किलोमीटर के दायरे से सिमटा पिंकसिटी अपनी हदों से बाहर निकल कर चाकसू, बस्सी, कूकस, सामोद और बगरू तक फैल गया। अंतर्राष्ट्रीय स्तर की इमारतें, सैंकड़ों अस्पताल, हजारों शिक्षण संस्थाएं, तेजी से विकसित होता सिटी ट्रांसपोर्टेशन, विशाल कॉलोनियां और

और पढ़े

जयपुर : द पिंकसिटी

जयपुर : द पिंकसिटी (Jaipur : The Pinkcity) पिंकसिटी जयपुर को दो लाख लोगों की बसावट को ध्यान में रखकर बसाया गया था। आज जयपुर शहर की आबादी 50 लाख से ज्यादा है। सवाई जयसिंह ने नए नगर जयपुर को आमेर से तीन मील की दूरी पर मैदान में बसाया । महाराजा सवाई जयसिंह ने सोचा भी नहीं होगा कि

और पढ़े

जयपुर: वर्ल्ड क्लास सिटी

जयपुर को वर्ल्ड क्लास सिटी बनाने के लिए वर्ष 2010 से 2014 तक सरकार को कुछ योजनाओं पर कार्य करना था लेकिन उनमें से कुछ योजनाएं ही आरंभ हो सकी। बाकी योजनाओं पर कार्य होना अभी बाकी है। इसलिए कहा जा सकता है कि जयपुर को वर्ल्ड क्लास सिटी बनने में अभी वक्त लगेगा। आईये, उन योजनाओं पर नजर डालें

और पढ़े

जयपुर और दुनिया के खूबसूरत शहर

जयपुर दुनिया के सबसे खूबसूरत शहरों में शुमार किया जाता है। जयपुर की खास बात यह है कि यहां दुनिया के तमाम खूबसूरत शहरों की छवि देखी जा सकती है। जयपुर ऐतिहासिक शहर भी तो सांस्कृतिक शहर भी, यह आस्था की नगरी भी है तो मॉल्स का शहर भी, यहां इमारतों के जंगल भी हैं और खूबसूरत उद्यान भी। अपनी

और पढ़े

‌‌गर्मी में जयपुर के पारंपरिक पेय

‌‌गर्मी में जयपुर के पारंपरिक पेय (Traditional Drinks in summers at Jaipur) जयपुर में आमतौर पर गर्मियों का सीजन बहुत लंबा निकलता है। मार्च से शुरू हुई गर्मियों का दौर अगस्त सितम्बर में ही थमता है। ऐसे में अपनी कलाओं और परंपराओं से प्रेम करने वाला शहर जयपुर गर्मी से राहत के लिए शीतल पेय के बहुत विकल्प अपने पास

और पढ़े

जयपुर के सिनेमाघर

विगत कुछ वर्षों में जयपुर में मल्टीप्लेक्स और मॉल संस्कृति का जोर हुआ है। तकनीक के क्षेत्र में यह एक अच्छा मुकाम है। लेकिन जैसे जैसे नवीन सृजन होता है वैसे वैसे पुरातन अपना अस्तित्व खोने लगता है। यही कारण है जयपुर के सिंगल स्क्रीन सिनेमा अपना वजूद खोते जा रहे हैं। जयपुर में अब जो सिंगल स्क्रीन सिनेमा बचे

और पढ़े

ईरानी कालीन पर कल्पना का जयपुर

जयपुर के रामनिवास बाग के बीचों बीच स्थित म्यूजियम अल्बर्ट हॉल के उत्तरी प्रमुख हॉल में रखे ईरानी कालीन को ध्यान से देखिए। इस बेहद दुर्लभ कालीन में बाग बगीचों की चित्रावलियां उकेरी गई हैं। खास बात यह है कि ये डिजाइन बिल्कुल जयपुर के परकोटा शहर के नक्शे से मेल खाती हैं। इन कालीनों पर दरअसल नक्शे ही बनाए

और पढ़े
« Older Entries