Category Archives: जयपुर पर्यटन

सरस्वती नदी : एक वरदान

सरस्वती नदी : एक वरदान (Saraswati River : A Boon) सरस्वती नदी अब तक एक रहस्य बनी हुई थी। पिछले तीस वर्षों से भू-वैज्ञानिक इस रहस्य को सुलझाने के प्रयास में लगे हैं। हाल ही इसरो के वैज्ञानिकों के दावा किया है सरस्वती नदी राजस्थान के नीचे भूमिगत रहकर बह रही है। अगर ये तथ्य सही साबित होते हैं तो राजस्थान

Rate this:

और पढ़े

ग्रामीण पर्यटन : राजस्थान

ग्रामीण पर्यटन : राजस्थान (Rural Tourism : Rajasthan) तमाम आधुनिकताओं और हर क्षेत्र में विकास के बावजूत यह सत्य है असली राजस्थान आज भी बड़े ही सादगीपूर्ण ढंग से गांवों में ही रहता है। शहरी इलाकों में सातवीं आठवीं मंजिल पर रहने वाले लोग न धरती का सुख जानते हैं न खुले आसमान का। लेकिन गांवों में हरे भरे खेतों

Rate this:

और पढ़े

जयपुर में जीप सफारी

जीप सफारी के जरिए राजस्थान के लोगों, उनके खान-पान, रहन-सहन, वेशभूषा और लोकाचार को करीब से देखने का मौका मिलता है। जयपुर में विभिन्न अवसरों पर राजस्थानी संस्कृति का जो दर्शन कराया जाता है वह कहीं न कहीं छद्म होता है और उससे कहीं बेहतर ग्रामीण इलाकों में जाकर वहां की संस्कृति को महसूस करना है। राजस्थान की लगभग 65

Rate this:

और पढ़े

नाहरगढ रेस्क्यू सेंटर

नाहरगढ रेस्क्यू सेंटर (Nahargarh rescue center) नाहरगढ़ रेस्क्यू सेंटर एक पहाड़ी और वन क्षेत्र है। यहां जीप की सफारी कर प्रकृति के अप्रतिम नजारों का आनंद लिया जा सकता है। इस क्षेत्र में वन विकसित किए गए हैं। यह क्षेत्र 70 हेक्टेयर तक फैला हुआ है। यह क्षेत्र ऊंचे परकोटा से घिरा हुआ है। किसी समय इस क्षेत्र का विकास

Rate this:

और पढ़े

राजस्थान के जिले

राजस्थान क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है। इसके विस्तृत भूभाग को प्रशासनिक सुविधा के लिए सात मंडलों में बांटा गया है। राजस्थान में कुल 33 जिले हैं। सभी जिलों की अपनी विशेषताएं हैं। पर्यटन के नजरिये से भी राजस्थान एक बेमिसाल राज्य है। यहां जयपुर, उदयपुर, सवाईमाधोपुर, अजमेर, जोधपुर, बीकानेर, जैसलमेर और चित्तौड़गढ आदि विश्वभर के

Rate this:

और पढ़े

राजस्थानी परंपराएं : वैज्ञानिक आधार

राजस्थानी परंपराएं : वैज्ञानिक आधार (Rajasthani Traditions : scientific base) राजस्थान परंपराओं, उत्सवों और उल्लास की धरती है। वीर भूमि, राजपूताना और ’धोरां री धरती’  के उपनामों से मशहूर यह प्रदेश कई प्राकृतिक विभिन्नताओं से सराबोर है। एक ओर विशाल थार मरूस्थल है तो दूसरी ओर घने जंगल, यहां पठार भी हैं और जलप्रपात भी, वन भी हैं और नदियां

Rate this:

और पढ़े

नाहरगढ़ हवेली

‌‌‌नाहरगढ़ हवेली (Nahargarh Haveli) जयपुर अपने हैरिटेज लुक के कारण देश और दुनिया में विख्यात है। दुनिया के कोने कोने से सैलानी यहां के हेरिटेज शाही अंदाज का आनंद लेने इस खूबसूरत शहर का दौरा करते हैं। यहां तक यूनेस्को की टीम भी जयपुर को एक शानदार हेरिटेज शहर मानती है। जयपुर का जंतर मंतर पहले ही विश्व विरासत सूची

Rate this:

और पढ़े
« Older Entries Recent Entries »